एकादशी जनवरी 2024: पौष मास की एकादशी तिथियों, महत्व और पारण समय की जाँच करें

एकादशी जनवरी 2024: पौष मास की एकादशी तिथियों, महत्व और पारण समय की जाँच करें

धरोहरीपूर्वक समाचा;\र संवाददाता | जनवरी 2, 2024

नई दिल्ली: एक बार फिर से आ रही है पौष मास की एकादशी, जिसमें भक्त अपनी भक्ति और पूजा के माध्यम से ईश्वर के प्रति अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करने का विचार कर रहे हैं। इस वर्ष, पौष मास की एकादशी का आयोजन विभिन्न भागों में हो रहा है, और इसे विशेष महत्वपूर्ण माना जा रहा है।

एकादशी की तिथियां:

पौष शुक्ल एकादशी (मोक्षदा एकादशी): जनवरी 5, 2024, शनिवार
पौष कृष्ण एकादशी (सफला एकादशी): जनवरी 20, 2024, शनिवार
यह तिथियां भगवान विष्णु की अराधना और उनके आशीर्वाद की प्राप्ति के लिए विशेष रूप से चयन की जाती हैं।

एकादशी का महत्व:

पौष मास की एकादशी का महत्व उत्कृष्ट है, क्योंकि इस महीने में भगवान विष्णु की पूजा से भगवान कृष्ण ने भी अपने दारुका वास का आयोजन किया था। इसलिए, इस एकादशी को “मोक्षदा एकादशी” भी कहा जाता है, जो श्रद्धालुओं को मोक्ष की प्राप्ति में सहारा प्रदान करती है।

पारण समय:

एकादशी के दिन, पारण समय भी महत्वपूर्ण है, जिसे भक्त विशेष ध्यान से अनुसरण करते हैं। इस वर्ष, पौष शुक्ल एकादशी का पारण समय सुबह 8:15 बजे से शुरू होकर दोपहर 10:47 बजे तक रहेगा। पौष कृष्ण एकादशी का पारण समय भी सुबह 7:05 बजे से रात्रि 9:32 बजे तक होगा।

भक्त इस समय में व्रत का अवलंबन कर सकते हैं और अपनी पूजा-अर्चना करके भगवान के आशीर्वाद की कामना कर सकते हैं।

इस एकादशी के अवसर पर, आप सभी को शुभकामनाएं और धार्मिक आनंद की कामना की जाती है। इस धार्मिक पर्व के माध्यम से, लोग अपने आत्मिक सफलता की कीमती प्राप्ति के लिए प्रयासरत हैं।

Leave a comment